अमेरिका ने उच्‍च प्रौद्योगिकी उत्‍पादों की बिक्री के निर्यात- नियमों में ढ़ील देने के लिए भारत का दर्जा बढ़ाया

अमेरिका ने भारत को सामरिक व्यापार प्राधिकृत यानी एसटीए-वन देश का दर्जा देकर उच्च प्रौद्योगिकी वाले उत्पादों के निर्यात को आसान बना दिया है। अमेरिकी वाणिज्य मंत्री विल्बर रॉस ने कल रात वाशिंगटन में भारत को एसटीए-वन दर्जे वाले देशों में शामिल करने की घोषणा की। यह निर्यात नियंत्रण व्यवस्था में भारत की स्थिति में बहुत ही महत्वपूर्ण बदलाव है। इससे भारत को अमरीका के निकटतम सहयोगियों और भागीदारों की तरह अमरीका से अधिक उन्नत और संवेदनशील प्रौद्योगिकी उत्‍पादों को खरीदने की अनुमति होगी।

वर्तमान में, एसटीए-वन सूची में जापान और दक्षिण कोरिया सहित 36 देश हैं। भारत सूची में एकमात्र दक्षिण एशियाई देश है।

Related posts