अमित शाह ने स्पष्ट कहा है कि एनआरसी मसौदा अंतिम सूची नहीं है

भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने स्पष्ट कहा है कि एनआर सी मसौदा अंतिम सूची नहीं है। उन्होंने कहा कि सूची में जिन लोगों के नाम छूट गएहैं उन्हें अपनी राष्ट्रीयता साबित करने का मौका दिया जाएगा। नई दिल्ली में मीडिया से बातचीत में शाह ने बताया कि एन.आर.सी. सूची को अंतिम रूप दिए जाने से पहलेदावे और आपत्तियां दर्ज करने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

कांग्रेस पर इस मुद्दे पर वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए शाह ने कहा कि पार्टी में बंगलादेशी घुसपैठियों को बारह निकालने का साहस नहीं था। अमित शाह ने एनआरसी के खिलाफ बोलने वाली कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस औरअन्य पार्टियों से कहा कि उन्हें अवैध बंगलादेशी घुसपैठियों पर अपना रूख स्पष्ट करनाचाहिए।

बांग्‍लादेशी घुसपैठियों के लिए कांग्रेस पार्टी स्‍पष्‍ट करेकि कांग्रेस पार्टी का स्‍टैंड क्‍या है। जिन-जिन पार्टियों ने इसका समर्थन दिया है। वो सारे के सारों को स्‍पष्‍ट करना चाहिए कि इनका स्‍टैंड क्‍या है। भारतीय जनता पार्टी का कमिटमेंट है। हम इस देश की सीमाओं की सुरक्षा को टॉप मोस्‍ट प्रायोरिटी देते है। हम इस देश के नागरिकों कीसुरक्षा को टॉप मोस्‍ट प्रायोरिटी देते है।

उधर, कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता आनंद शर्मा ने आरोप लगाया किसदन में राष्‍ट्रीय नागरिक रजिस्‍टर के मुद्दे पर चर्चा के दौरान भाजपा अध्‍यक्ष अमितशाह ने अकारण भड़काऊ भाषण दिया, जिसके कारण राज्‍यसभा की कार्यवाही स्‍थगित करनी पड़ी।

Related posts