मंत्रिमंडल ने 2019-20 सीजन के लिए कच्‍चे जूट का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य 3700 रुपये से बढ़ाकर 3950 रुपये प्रति क्विंटल किया

The Cabinet approved the Patna Metro Rail Project, increased the minimum support price of raw jute by Rs 250 per quintal

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने 2019-20 सीजन के लिए कच्‍चे जूट का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (एमएसपी) बढ़ाने की मंजूरी दे दी है।

कच्‍चे जूट की उचित औसत किस्‍म (एफएक्‍यू) का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (एमएसपी) 2019-20 सीजन के लिए प्रति क्विंटल बढ़ाकर 3950 रूपये कर दिया गया है जो 2018-19 के सीजन में 3700 रूपये प्रति क्विंटल था।

एमएसपी से अखिल भारतीय भारित औसत उत्‍पादन लागत पर 55.81 प्रतिशत का मुनाफा होगा। कच्‍चे जूट के एमएसपी से किसानों को उचित न्‍यूनतम मूल्‍य सुनिश्चित हो सकेगा और जूट की खेती में निवेश करने में तेजी आएगी तथा इससे देश में उत्‍पादन और उत्‍पादकता बढ़ेगी।

भारतीय पटसन निगम जूट उत्‍पादक राज्‍यों में एमएसपी पर मूल्‍य समर्थन कार्य शुरू करने के लिए केन्‍द्रीय नोडल एजेंसी के रूप में कार्य करना जारी रखेगी।

Related posts