निर्वाचन आयोग ने रोड शो, पदयात्रा, वाहन रैली और जुलूसों पर लगा प्रतिबंध 11 फरवरी तक बढ़ाया

निर्वाचन आयोग ने रोड शो, पदयात्रा, वाहन रैली और जुलूसों पर लगे प्रतिबंध को 11 फरवरी तक बढा दिया है। मुख्‍य निर्वाचन आयुक्‍त सुशील चन्‍द्र ने निर्वाचन आयुक्‍त राजीव कुमार और अनूप चंद्र पांडेय के साथ विशेष तौर से गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्‍तराखण्‍ड और उत्‍तर प्रदेश में कोविड संक्रमण की वर्तमान स्‍थिति की विस्‍तार से समीक्षा की।

इस दौरान इन राज्‍यों के मुख्‍य सचिवों ने आयोग को बताया कि संक्रमण दर कम हो रही है और अस्‍पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्‍या में भी कमी आई है।

चुनाव आयोग ने कल से सभी राजनीतिक पार्टियों और चुनाव लड रहे उम्‍मीदवारों को सभी चरणों के लिए खुले मैदान में एक हजार लोगों के साथ बैठक करने की अनुमति देने का निर्णय लिया है। इसके पहले आयोग केवल पांच सौ लोगों या पचास प्रतिशत क्षमता के साथ मैदानों में बैठक करने की अनुमति दी थी। आयोग ने घर-घर जाकर प्रचार करने वालों की संख्‍या में बढोतरी की है। सुरक्षा बलों को छोडकर दस के बदले अब बीस लोगों को घर-घर जाकर प्रचार करने की अनुमति दे दी है। राजनीतिक पार्टियों को सभागारों में अधिकतम पांच सौ व्‍यक्तियों के साथ बैठक करने की भी अनुमति दी गई है। इसके पहले केवल तीन सौ व्‍यक्तियों या सभागार की पचास प्रतिशत क्षमता के साथ अनुमति थी। आयोग ने सभी अवसरों पर राजनीतिक दलों और चुनाव लड रहे उम्‍मीदवारों से कोविड उचित व्‍यवहार, कोविड दिशा-निर्देश और आदर्श अचार संहिता का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *