प्रवर्तन निदेशालय ने पी. चितंबरम और कार्ति चितंबरम के खिलाफ एयरसेल मैक्सिस मामले में जांच की स्थिति रिपोर्ट दिल्ली की अदालत को सौंपी

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने एयरसेल-मैक्सिस मामले में जांच के सिलसिले में दिल्ली की एक अदालत में शुक्रवार को स्थिति रिपोर्ट दाखिल की। ईडी ने जिला न्यायाधीश न्यायमूर्ति सुजाता कोहली को बताया कि इस मामले में गहन जांच जारी है। सीबीआई ने कहा कि अनुरोध पत्र मलेशिया भेजा गया है और प्रतिक्रिया का इंतजार है।

न्यायिक अनुरोधों को अनुरोध पत्र (लैटर्स रोगेटरी) कहा जाता है। जब कोई जांच एजेंसी किसी अन्य देश से सूचनाएं मंगाने का अनुरोध करती है तो अदालतें यह पत्र जारी करती हैं। जांच एजेंसियां इस बात की जांच कर रही हैं कि 2006 में जब कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम देश के वित्त मंत्री थे, तब उनके बेटे कार्ति चिदंबरम को एयरसेल-मैक्सिस सौदे के लिये विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी कैसे मिली।

दोनों एजेंसियों का आरोप है कि पी. चिदंबरम ने अपने अधिकारों का दुरुपयोग करते हुए मंजूरियां दिलायी, जिससे कुछ लोगों को लाभ हुआ और बदले में उन्हें भी कुछ हिस्सा मिला।

Related posts

Leave a Reply