Fact Check: ट्विटर मैसेज में दावा, आयुष मंत्रालय से एक डॉक्टर को हटा दिया गया

नई दिल्ली: सरकार ने ट्वीटर पर चल रहे उस संदेश को गलत करार दिया है जिसमें दावा किया गया है कि कोविड-19 के इलाज के लिए पतंजलि आयुर्वेद द्वारा तैयार आयुर्वेदिक औषधि के मामले में मंत्रालय के एक डॉक्‍टर को हटा दिया गया है। पत्र सूचना कार्यालय ने आयुष मंत्रालय के हवाले से एक टवीट में कहा है कि किसी भी चिकित्‍सक या चिकित्‍सा अधिकारी को डयूटी या सेवा से हटाया नहीं गया है।

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *