रफाल विमान सौदे और अनिल अंबानी की फ्रांसीसी कंपनी को मिली कर-छूट के बीच संबंध तलाशना पूरी तरह गलत: रक्षा मंत्रालय

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि एक निजी कंपनी को मिली कर-छूट और रफाल विमान सौदे में कोई संबंध तलाशना पूरी तरह से गलत, पक्षपातपूर्ण अैर गुमराह करने की कोशिश है।

रक्षा मंत्रालय का यह बयान फ्रांस के समाचार पत्र लू मून्‍द में छपे इस दावे के बाद आया है कि उद्योगपति अनिल अम्‍बानी की फ्रांसीसी कंपनी को रफाल सौदे के समय 14 करोड़ 37 लाख यूरो की कर छूट मिली थी।

इस बीच, कांग्रेस ने फ्रांसीसी समाचार पत्र में छपी रिपोर्ट के बाद दावा किया है कि राफाल सौदे में भ्रष्टाचार और पैसे के लेनदेन का खुलासा हो गया है। आज नई दिल्‍ली में संवाददाताओं से बातचीत में पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि एनडीए सरकार द्वारा राफेल सौदा हो जाने के बाद टैक्‍स को लेकर विवाद जल्द सुलझ गया।

Related posts