सरकार ने अगले चार साल में 40 उपग्रह प्रक्षेपण यान विकसित करने के लिए लगभग 11 हजार करोड़ रुपये आवंटित किये

Government has allocated around 11 thousand crore rupees for developing 40 satellite launchers in the next four years.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन-इसरो के अध्‍यक्ष डॉक्‍टर के. सिवान ने कहा है कि केंद्र सरकार ने अगले चार वर्ष के दौरान चालीस उपग्रह प्रक्षेपण यान विकसित करने के लिए दस हजार नौ सौ करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। वे तमिलनाडु के तिरुचिरापल्‍ली में सेंट जोसेफ कॉलेज के दीक्षांत समारोह में बोल रहे थे। कॉलेज अपना 175वां स्‍थापना दिवस मना रहा है।

डॉक्‍टर सिवान ने कहा कि चंद्रयान अभियान तीन महीने के भीतर प्रक्षेपित कर दिया जाएगा। यह चंद्रमा के एक ऐसे हिस्‍से में उतरेगा जो अब तक अनजाना है। उन्‍होंने कहा कि भारत के गगनयान नाम के मानव युक्‍त प्रक्षेपण यान को स्‍वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ पर 2022 तक छोड़ने की योजना है।

Related posts