सरकार ने स्पष्ट किया है कि कोविड-19 महामारी का खरीफ की बुआई पर कोई असर नहीं पडा

सरकार ने स्पष्ट किया है कि कोविड-19 महामारी का खरीफ की बुआई पर कोई असर नहीं पडा है। कृषि मंत्रालय ने कहा है कि एक हजार 116 लाख हेक्‍टेयर क्षेत्र में खरीफ की फसलें बोई गई हैं जबकि पिछले साल इसी अवधि में एक हजार 66 लाख हेक्‍टेयर में बुआई हुई थी। किसानों को समय पर बीज, कीटनाशक, उर्वरक, मशीनरी और ऋण जैसी सुविधाएं उपलब्‍ध कराए जाने से लॉकडाउन के दौरान बडे क्षेत्र में खरीफ फसलों की बुआई संभव हो पाई है। मंत्रालय ने कहा है कि इसका श्रेय किसानों को जाता है जिन्‍होंने समय पर कृषि गतिविधियां शुरू की, टेक्‍नोलॉजी को अपनाया और सरकारी योजनाओं का लाभ उठाया।

इस साल चार सौ सात लाख हेक्‍टेयर क्षेत्र में धान की बुआई की जा चुकी है जबकि पिछले साल 385 लाख हेक्‍टेयर में ही इसकी बुआई हुई थी। दलहनों की बुआई 139 लाख हेक्‍टेयर से अधिक क्षेत्र में हुई है जबकि पिछले साल 133 लाख हेक्‍टेयर में दलहनी फसलें बोई गई थीं। मंत्रालय ने कहा है कि कल तक देशभर में नौ सौ 28 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की जा चुकी थी जबकि सामान्‍य वर्षा का स्‍तर 854 मिलीमीटर है।  

Related posts

Leave a Comment