सरकार राष्‍ट्रीय राजमार्गों पर उपग्रह आधारित GPS टोल संग्रह प्रणाली लागू करने के लिए तैयार

सरकार राष्‍ट्रीय राजमार्गों पर उपग्रह आधारित जीपीएस टोल संग्रह प्रणाली लागू करने के लिए तैयार है। राज्‍य सभा में प्रश्‍न काल के दौरान पूरक प्रश्‍न के उत्‍तर में सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि इस वर्ष लोकसभा चुनाव से पहले यह प्रणाली लागू की जाएगी। उन्‍होंने कहा कि नई प्रणाली के तहत वाहन नंबर प्‍लेट की पहचान के साथ ही टोल सीधे बैंक खातों से कट जाएगा। नितिन गडकरी ने कहा कि नई टोल संग्रह प्रणाली से मौजूदा टोल प्‍लाजा हटाने और राष्‍ट्रीय राजमार्गों पर यात्रा सुगम बनाने में सहायता मिलेगी। उन्‍होंने कहा कि अब तक आठ करोड़ 13 लाख फास्‍ट टैग जारी किए गए हैं और औसत दैनिक टोल संग्रह 170 से 180 करोड़ रुपए के बीच है।