गृह मंत्री अमित शाह ने आम बजट की प्रशंसा करते हुए इसे 2047 तक विकसित भारत के विज़न को साकार करने के लिए रोडमैप तैयार करने वाला बताया

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आम बजट की प्रशंसा करते हुए इसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के 2047 तक विकसित भारत के विज़न को साकार करने के लिए रोडमैप तैयार करने वाला बताया है।

प्लेटफॉर्म X पर अपनी पोस्ट्स में अमित शाह ने कहा कि ये बजट भारत को हर क्षेत्र में अग्रणी बनाने की पिछले 10 वर्षों की यात्रा के दौरान मोदी सरकार द्वारा हासिल की गईं उपलब्धियों पर प्रकाश डालता है।अमृतकाल के दौरान इन्हीं उपलब्धियों की नींव परविकसित भारत का निर्माण किया जा रहा है। इस उत्कृष्ट यात्रा के माध्यम से देश का नेतृत्व करने के लिए मोदी जी और एक व्यावहारिक बजट भाषण के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी को मेरा हार्दिक आभार।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि किसानों के लिए समर्पित मोदी सरकार काविकसित भारत बजट देश के किसान भाइयों के लिए खुशहाली व समृद्धि के नए अवसर लेकर आया है। मोदी जी के आत्मनिर्भर भारत से प्रेरित इस बजट में एक तरफ तिलहनों में आत्मनिर्भरता को बढ़ावा दिया गया है, तो दूसरी तरफ नैनो-डीएपी के प्रयोग व डेयरी विकास पर भी ध्यान केंद्रित किया गया है।मोदी सरकार आज 11.8 करोड़ किसानों को वित्तीय सहायता व 4 करोड़ किसानों को फसल बीमा से सुरक्षा दे रही है। बजट में मॉडर्न स्टोरेज और प्रभावकारी सप्लाई चेन स्थापित करने पर लिए गए अहम फैसलों से हमारे अन्नदाता आर्थिक तौर पर सशक्त एवं समृद्ध बन सकेंगे। इस बजट में लखपति दीदी के लक्ष्य को बढ़ाकर 3 करोड़ करने के लिए मैं मोदी जी का आभार व्यक्त करता हूँ।

अमित शाह ने कहा कि मोदी सरकार का यह बजट पर्यटन के क्षेत्र को नई ऊर्जा देने का काम करेगा। बजट में पर्यटन को बढ़ावा देने हेतु ऐतिहासिक व सांस्कृतिक स्थलों के विकास के लिए राज्यों को प्रोत्साहन और लंबे समय तक ब्याजमुक्त लोन दिया जाएगा, जिससे पर्यटन क्षेत्र की अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी और रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।लक्षद्वीप सहित अन्य द्वीपों में एयर कनेक्टिविटी शुरू कर इन्हें मुख्यधारा से जोड़ने जैसे ऐतिहासिक फैसलों के लिए मोदी जी का आभार।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि अंतरिम बजट 2024 के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने हमारे देश में चल रही तकनीकी क्रांति में एक बड़े बदलाव का मंच तैयार किया है। प्रौद्योगिकी के लिए एक लाख करोड़ के कॉर्पस फंड का लाभ न केवल हमारे अनुसंधान और विकास कौशल को मिलेगा, बल्कि सामान्य पृष्ठभूमि वाले युवाओं को प्रौद्योगिकी को एक माध्यम के रूप में उपयोग कर समाज में सार्थक बदलाव लाने की चुनौती लेने के लिए भी प्रोत्साहित करेगा।

अमित शाह ने कहा कि बजट-2024 एक ऐसा दस्तावेज है जो एक उत्कृष्ट राजनेता के रूप में प्रधानमंत्री मोदी की भूमिका को सामने लाता है, जो सहकारी संघवाद के मूल्यों को मजबूत करते हुए देश को महानता के रास्ते पर ले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगले पांच दशकों के लिए राज्यों को कुल 75,000 करोड़ रूपए का ब्याज-मुक्त ऋण देने का निर्णय केंद्र-राज्य संबंधों को मजबूत करने में गेम चेंजर साबित होगा। इससे यह भी सुनिश्चित होगा कि मोदी जी ने जिस महान भारत की कल्पना की है, उसमें कोई भी क्षेत्र पीछे न रह जाये।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने देश के इंफ्रास्ट्रक्चर को विश्वस्तरीय बनाने के लिए जहाँ बजट में एक तरफ 11.1% बढ़ोतरी कर इसे रिकॉर्ड 11.11 लाख करोड़ रुपए किया है, वहीं लॉजिस्टिक कार्यकुशलता व लागत को कम करने के लिए पीएम गति शक्ति के अंतर्गत तीन बड़े रेलवे कॉरिडोर की घोषणा ने भविष्य के भारत की नई रूपरेखा भी देशवासियों के सामने रखी है।मोदी जी के नेतृत्व में आज देश में हाईवे निर्माण की गति तीन गुनी बढ़ चुकी है और एयरपोर्ट की संख्या भी दोगुनी से अधिक हुई है। आज आधुनिक वंदेभारत और नमो भारत ट्रेन भी नए भारत की शान बनी हैं

अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की दूरदर्शिता को दर्शाती “सूर्योदय योजना” से 1 करोड़ परिवार अपने घरों पर सौर ऊर्जा सिस्टम लगाकर बिजली उत्पन्न कर पाएंगे। उन्हें प्रति माह 300 यूनिट बिजली फ्री मिलेगी और इससे उनकी सालाना 15 से 18 हजार रुपये की बचत भी होगी।मोदी जी ने आयुष्मान भारत योजना से अभी तक 30 करोड़ से अधिक लोगों को 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज देने का काम किया है। आज बजट में आयुष्मान योजना से आशा व आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं को जोड़ने का महत्त्वपूर्ण फैसला लिया गया, जिससे ये लोग भी मुफ्त इलाज का लाभ ले पायेंगे।साथ ही, इस बजट में ‘सर्वाइकल कैंसर’ से बचाव के लिए 9 से 14 साल की बच्चियों के टीकाकरण को बढ़ावा देने का अहम फैसला भी लिया गया है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि वर्ष 2013-14 में आयकर में जो छूट 2.2 लाख रुपये थी, उसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने 10 वर्षों में बढाकर 7 लाख रुपये करने का काम किया है। इससे आयकर भरने वालों का सरकार पर विश्वास भी बढ़ा है और उनकी संख्या में 2.4 गुना वृद्धि हुई है। साथ ही, प्रत्यक्ष कर संग्रह में भी तीन गुना बढ़ोतरी हुई है।