जेनेवा में मानवाधिकार परिषद के 45वें सत्र में भारत ने अंतर्राष्‍ट्रीय मंचों पर दुष्प्रचार के खिलाफ पाकिस्‍तान को करारा जवाब दिया

भारत में एक बार फिर अंतर्राष्‍ट्रीय मंचों पर दुष्प्रचार के खिलाफ पाकिस्‍तान को करारा जवाब दिया है। जेनेवा में मानवाधिकार परिषद के 45वें सत्र में पाकिस्‍तान की ओर से दिये गये बयान पर उत्‍तर देने के अधिकार का उपयोग करते हुए भारतीय प्रतिनिधि पवन बधे ने कहा कि झूठे और मनगढ़ंत बयानों के जरिये अपने दुर्भावनापूर्ण उद्देश्यों की पूर्ति के लिए हमारे देश की छवि खराब करना पाकिस्‍तान की आदत बन गयी है। उन्‍होंने कहा कि न तो भारत और न ही किसी अन्‍य देश को उस देश की ओर से मानवाधिकारों पर पाठ पढ़ाये जाने की जरूरत है जो स्‍वयं लगातार नस्ली भेदभाव और धार्मिक अल्‍पसंख्‍यकों पर अत्‍याचार के लिए जाना जाता रहा है। वो आतंकवाद की धुरी बना हुआ है, जो ऐसे लोगों का मददगार है जिनके नाम संयुक्‍त राष्‍ट्र के प्रतिबंध सूची में शामिल हैं और साथ ही ऐसा देश जिसके प्रधानमंत्री ने खुद कबूल किया है कि उनके यहां जम्‍मू कश्‍मीर में लड़ाई के लिए हजारों आतंकवादियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

Related posts

Leave a Comment