भारत ने हिंद महासागर क्षेत्र और हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति, सुरक्षा और समृद्धि को बढ़ावा देने की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की

भारत ने हिंद महासागर क्षेत्र के साथ-साथ हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति, सुरक्षा और समृद्धि को बढ़ावा देने की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की है। आज बांग्लादेश के ढाका में आयोजित हिन्द महासागर तटीय सहयोग संघ -आईओआरए की मंत्रिपरिषद की 22वीं बैठक में भारत ने कहा कि वह चाहता है कि इसके लिए आईओआरए को मजबूत बनाया जाए।

बैठक में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व विदेश राज्य मंत्री डॉ. राजकुमार रंजन सिंह ने किया। उन्‍होंने इस अवसर पर क्षमता निर्माण, आपदा जोखिम प्रबंधन और विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार के क्षेत्र में आईओआरए सचिवालय के प्रयासों में भारत के योगदान का उल्‍लेख भी किया। उन्‍होनें जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न चुनौतियों से निबटने की दिशा में पर्यावरण अनुकूल जीवन शैली और बाजरा के अंतर्राष्ट्रीय वर्ष जैसी भारत की पहल पर प्रकाश डाला।

आईओआरए 23 सदस्यों और 10 संवाद भागीदारों के साथ हिंद महासागर क्षेत्र में सबसे बड़ा और प्रतिष्ठित संगठन है।