शनिवार, फ़रवरी 27
Shadow

भारत ने मॉलदीव के साथ रक्षा क्षेत्र में पांच करोड़ डॉलर के ऋण सुविधा समझौते पर हस्ताक्षर किए

भारत ने अपनी समुद्री सीमा के पड़ोसी देश मॉलदीव के चौतरफा विकास और सुरक्षा के प्रति वचनबद्धता दोहराते हुए उसके लिए रक्षा क्षेत्र में पांच करोड़ डॉलर के ऋण समझौते पर हस्‍ताक्षर किये हैं। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कल मालदीव में बताया कि इस समझौते से समुद्री सुरक्षा के क्षेत्र में क्षमता निर्माण में मदद मिलेगी। रक्षा परियोजनाओं के लिए ऋण समझौते पर मॉलदीव के वित्‍त मंत्रालय और भारत के निर्यात आयात बैंक के बीच हस्‍ताक्षर हुए। इस ऋण से हिन्‍द महासागर में रणनीतिक रूप से महत्‍वपूर्ण मालदीव में समुद्री क्षमताओं को बढ़ावा मिलेगा।

डॉक्‍टर जयशंकर ने मालदीव के रक्षामंत्री मारिया दीदी के साथ यूटीएफ हार्बर परियोजना समझौते पर भी हस्‍ताक्षर किये।

डॉक्‍टर जयशंकर ने मॉलदीव के राष्‍ट्रपति इब्राहिम मोहम्‍मद सोलिह से भी मुलाकात की और विकास सहयोगी के रूप में भारत की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की। भारत ने मॉलदीव को कोविड-19 से बचाव की एक लाख से अधिक अतिरिक्‍त खुराकें दी है। मोहम्‍मद सोलिह ने इस सहायता के लिए भार‍त का धन्‍यवाद किया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Enable Notifications    OK No thanks