भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण ने लोगों को सार्वजनिक रूप से अपना आधार नम्‍बर सोशल मीडिया पर न देने के बारे में आगाह किया

भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण ने लोगों को सार्वजनिक रूप से अपना आधार नम्‍बर इंटरनेट और सोशल मीडिया पर न देने के बारे में आगाह किया है। आधार विशिष्‍ट पहचान संख्‍या है जिसका उपयोग विभिन्‍न सेवाओं, लाभों और सब्सिडी प्राप्‍त करने के लिए व्‍यक्ति की पहचान के प्रमाण के तौर पर किया जाता है।

भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण ने कहा है कि सार्वजनिक रूप से आधार संख्‍या प्रस्‍तुत या प्रकाशित नहीं की जानी चाहिए; क्‍योंकि यह भी बैंक खाता और पैन संख्‍या की तरह संवदेनशील निजी जानकारी है।

Related posts