विश्‍वासमत से पहले कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री बी एस येदियुरप्‍पा का इस्‍तीफा

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता बी. एस. येडियुरप्पा ने विधानसभा में विश्वास मत का सामना किए बिना ही कर्नाटक के मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया है। विधानसभा में बी. एस. येडियुरप्पा ने अपने इस्तीफे की घोषणा की। हमारे संवाददाता ने बताया है कि‍ बी. एस. येडियुरप्पा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को सदन में बहुमत सिद्ध करने के लिए अपेक्षित संख्या में सीटें प्राप्त नहीं हुई।

भावनात्‍मक भाषण के बाद बी. एस. येडियुरप्पा ने अपना इस्‍तीफा देने का ऐलान किया जिसके बाद कांग्रेस और जेडीएस विधायक वी साइन दिखाने लगे। उनके सभी सदस्‍य खुशी से झूम पड़े। कांग्रेस सदस्‍यों ने मुख्‍यमंत्री उम्‍मीदवार एस.डी. कुमारस्‍वामी को बधाई दी। इस बीच, कांग्रेस के आनंद सिंह और प्रताप गौड़ा पाटिल जो सुबह सदन नहीं पहुंचे थे, वे दोपहर के बाद सदन आ गए। 115 सदस्‍यों की समर्थन से अब जेडीएस नेता एस.डी.कुमारस्‍वामी मुख्‍यमंत्री बन सकते हैं। उन्‍हें कांग्रेस और अन्‍य सदस्‍यों से समर्थन प्राप्‍त है। वे सोमवार को मुख्‍यमंत्री का स्‍थानग्रहण करेंगे।

Related posts