केरल हाई कोर्ट ने हत्या के प्रयास मामले में लक्ष्‍दवीप के पूर्व सासंद मोहम्म्द फैजल की सजा पर रोक लगाई

केरल उच्च न्यायालय ने लक्षद्वीप के पूर्व सांसद मोहम्मद फैजल और तीन अन्य को 2009 के लोकसभा चुनावों के दौरान हत्या के प्रयास के मामले में दस वर्ष की सश्रम कारावास के निचली अदालत के फैसले पर आज रोक लगा दी है। न्यायमूर्ति बेचू कुरियन थॉमस ने मोहम्मद फैजल की रिट याचिका पर जिला और सत्र न्यायालय, कवारत्ती के फैसले को निलंबित कर दिया।

कवारत्ती अदालत ने पूर्व केंद्रीय मंत्री पीएम सईद के दामाद मोहम्मद सलीह की हत्या के प्रयास के सिलसिले में लक्षद्वीप के पूर्व सांसद और अन्य को सजा सुनाई थी।अदालत ने अभियुक्तों पर एक-एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था।

लोकसभा सचिवालय ने मोहम्मद फैजल को अयोग्य घोषित कर दिया था, जिसके बाद चुनाव आयोग ने लक्षद्वीप संसदीय क्षेत्र के लिए 27 फरवरी को उपचुनाव कराने की घोषणा कर दी। मोहम्मद फैजल ने लक्षद्वीप में उपचुनाव कराने की चुनाव आयोग की घोषणा के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में अपील की है।