महाराष्‍ट्र सरकार ने स्‍वास्‍थ्‍य, शिक्षा और कृषि जैसे क्षेत्रों में AI का इस्‍तेमाल करने के लिए गूगल के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए

महाराष्‍ट्र सरकार ने स्‍वास्‍थ्‍य, शिक्षा और कृषि जैसे क्षेत्रों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) का इस्‍तेमाल करने के लिए गूगल के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए हैं। इस समझौता ज्ञापन पर महाराष्‍ट्र के उप-मुख्‍यमंत्री देवेन्‍द्र फड़नवीस की उपस्थिति में गूगल के पुणे कार्यालय में हस्‍ताक्षर किए गए।

देवेन्‍द्र फड़नवीस ने कहा कि यह सहयोग स्‍वास्‍थ्‍य और कृषि जैसे आवश्‍यक क्षेत्रों में क्रांतिकारी परिवर्तन लाने और भविष्‍य के लिए तैयार कौशल के साथ नागरिकों को सशक्‍त बनाने में मददगार होगा। यह सहयोग भारतीय प्रौद्योगिकी संस्‍थान नागपुर में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उत्‍कृष्‍टता केंद्र के जरिए महाराष्‍ट्र आर्टिफिशियल इंटेंलिजेंस स्‍टार्टअप्‍स के लिए उन्‍नतिशील वातावरण तैयार करने में भी सहायक होगा।

उप-मुख्‍यमंत्री ने कहा कि गूगल विश्‍व की सबसे बड़ी प्रौद्योगिकी कंपनियों में से एक है। गूगल द्वारा तैयार कई नए एप्लिकेशन जीवन की गुणवत्ता सुधारने में सहायक है। उन्‍होंने कहा कि गूगल के साथ व्‍यापक साझेदारी 7 विभिन्‍न क्षेत्रों में संधारणीयता के उद्देश्‍य से की गई है। श्री फड़नवीस ने कहा कि पुणे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के मामले में विश्‍व के मानचित्र पर होगा।