राष्ट्र 1971 के युद्ध में पाकिस्तान पर जीत के उपलक्ष्य में आज विजय दिवस मना रहा है

राष्ट्र 1971 के युद्ध में पाकिस्तान पर जीत के उपलक्ष्य में आज विजय दिवस मना रहा है। इस अवसर पर प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी जा रही है। रक्षामंत्री निर्मला सीतारामन और तीनों सेनाध्यक्ष अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे।

1971 में आज ही के दिन पाकिस्तान के सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल आमिर अब्दुल्ला खान नियाज़ी ने 93 हजार सैनिकों के साथ भारत के लेफ्टिनेंट जनरल जगजीत सिंह अरोड़ा के नेतृत्व में भारतीय सेना और मुक्ति वाहिनी के संयुक्त सेना के समक्ष बिना शर्त आत्मसर्पण किया था। इस युद्ध के बाद पूर्वी पाकिस्तान का बंगलादेश के रूप में उदय हुआ था। इस अवसर में आज कोलकाता के फोर्ट विलियम में पूर्वी कमान मुख्यालय में कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 1971 युद्ध में राष्ट्र और मानवीय स्वतंत्रता के मूल्यों की रक्षा करने वाले जांबाज़ सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने कहा कि राष्ट्र अदम्य शौर्य का प्रदर्शन करते हुए प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों के प्रति कृतज्ञ है।

इस अवसर पर खेल मंत्री कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ ने आज सुबह नई दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टे़डियम से एक विशेष मैराथन दौड़- रवाना की। मैराथन का आयोजन शहीद और घायल सैनिकों के सम्मान में किया गया है। पांच श्रेणियों में लगभग 12 हजार धावक इसमें हिस्सा ले रहे हैं। इससे होने वाली आय भारतीय सेना के कृत्रिम अंग केंद्र को घायल सैनिकों के इलाज के लिए दी जाएगी।

Related posts