केरल में वर्षा से जुड़ी घटनाओं में नौ लोगों की मौत, वर्षा ग्रस्त इलाकों में राहत और बचाव कार्य जोरों पर

केरल में वर्षाग्रस्‍त इलाकों में राहत और बचाव कार्य जोरों पर है, हालांकि भारी वर्षा के कारण बचाव कार्य में बाधा आ रही है। राज्‍य में वर्षा से जुड़ी घटनाओं में नौ लोगों की मौत हो चुकी है और 12 लापता हैं, जिनकी तलाश जारी है।

कोटटायम जिले में कूटिकल के प्लापल्ली में कल भू-स्खलन की एक बड़ी घटना हुई। इडुक्की में कोक्कायर में भी भू-स्खलन की कई घटनाएं हुईं जिनमें आठ लोग लापता हैं। मध्य केरल में आज सुबह से ही तेज वर्षा हो रही है। प्रमुख नदियों का जलस्तर बढ़ा हुआ है। राज्य में वर्षा से प्रभावित लोगों के लिए 320 से ज्यादा राहत शिविर बनाये गये हैं। राष्ट्रीय और राज्य आपदा मोचन बल, सशस्त्र बल, पुलिसकर्मी और असैन्य स्वयंसेवी राहत और बचाव कार्यों में सहयोग कर रहे हैं।

कल कोट्टायम जिले के कूटिकल और इडुक्‍की में कोक्‍कायर में भू-स्‍खलन की कई घटनाएं हुईं। नदियों में उफान से राज्‍य में भारी नुकसान होने की खबर है। हजारों लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।

मौसम विभाग (IMD) ने केरल के 11 ज़िलों तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, कोट्टायम, अलाप्पुझा, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम और कोझीकोड में भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया है।

Related Posts