NTPC समूह ने चालू वित्त वर्ष में 100 बीयू से अधिक का सकल उत्पादन हासिल किया

NTPC Group achieved gross production of over 100 BU in the current financial year

NTPC लिमिटेड द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, एनटीपीसी समूह ने चालू वित्त वर्ष में 100 बिलियन यूनिट (बीयू) से अधिक का सकल उत्पादन हासिल किया है, जिससे संयंत्रों के संचालन में उत्कृष्टता के लिए समूह की प्रतिबद्धता को मजबूती मिली है।

केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए) द्वारा प्रकाशित आंकड़ों के अनुसार, छत्तीसगढ़ स्थित एनटीपीसी कोरबा (2600 मेगावाट) अप्रैल से जुलाई 2020 के दौरान 97.42 प्रतिशत प्लांट लोड फैक्टर (पीएलएफ) के साथ भारत में शीर्ष प्रदर्शन करने वाले ताप विद्युत संयंत्र के रूप में उभरा है।

इसके साथ ही एनटीपीसी के पांच अन्य प्रमुख विद्युत संयंत्रों द्वारा अनुकरणीय प्रदर्शन किया गया है। छत्तीसगढ़ स्थित एनटीपीसी सीपत (2980 मेगावाट), उत्तर प्रदेश स्थित एनटीपीसी रिहंद (3000 मेगावाट) और एनटीपीसी विंध्याचल (4760 मेगावाट), ओडिशा स्थित एनटीपीसी तलचर कनिहा (3000 मेगावाट) और एनटीपीसी तलचर थर्मल (460 मेगावाट) पीएलएफ प्रदर्शन के आधार पर देश के शीर्ष दस विद्युत संयंत्रों में शामिल हो गए हैं।

इसके अलावा, उत्तर प्रदेश स्थित एनटीपीसी सिंगरौली की 200 मेगावाट क्षमता वाली दो ईकाई, ईकाई 4 और 1, क्रमशः जनवरी 1984 और जून 1982 में प्रमाणित हुई थी और जिसने अप्रैल से जुलाई 2020 के दौरान क्रमशः 99.90 प्रतिशत और 99.87 प्रतिशत के साथ देश में उच्चतम पीएलएफ हासिल किया। इन विद्युत संयंत्रों ने संचालन और रखरखाव में एनटीपीसी की विशेषज्ञता और परिचालन उत्कृष्टता के उच्च स्तर का प्रदर्शन किया है।

62.9 गीगावाट की कुल स्थापित क्षमता के साथ, एनटीपीसी समूह में 70 विद्युत स्टेशन हैं जिनमें 24 कोयला, 7 संयुक्त चक्र गैस / तरल ईंधन, 1 हाइड्रो, 13 नवीकरणीय के साथ-साथ 25 सहायक और जेवी विद्युत स्टेशन शामिल हैं। समूह के पास निर्माणाधीन 20 गीगावाट क्षमता है, जिसमें 5 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा की परियोजनाएं शामिल हैं।

 

Related posts

Leave a Comment