उत्‍तर प्रदेश में मकर संक्रांति के अवसर पर हजारों लोग ब्रह्ममुहुर्त काल से पवित्र नदियों में स्‍नान किया, प्रयागराज का प्रसिद्ध माघ मेला भी आज से शुरू

उत्‍तर प्रदेश में कडाके की ठंड के बावजूद मकर संक्रांति के अवसर पर हजारों लोग ब्रह्ममुहुर्त काल से पवित्र नदियों में स्‍नान कर रहे हैं। प्रयागराज का प्रसिद्ध माघ मेला भी आज से शुरू हो रहा है।

मकर संक्रांति के अवसर पर सुबह से ही साधु संतों के साथ ही बड़ी संख्या में श्रद्धालु पवित्र नदियों में स्नान कर रहे हैं। गंगा, यमुना और अदृश्य सरस्वती के पवित्र संगम पर प्रयागराज में लगभग डेढ़ महीने तक चलने वाले माघ मेले का ये पहला बड़ा स्नान माना जाता है। माघ मेला प्रदेश में पहला ऐसा आयोजन है जो कोरोना के संक्रमण के शुरू होने के बाद किया जा रहा है। पहली बार प्रशासन ने माघ मेले में आने वाले सभी श्रद्धालुओं और कल्पवासियों की सूची तैयार की है और किसी को भी बिना कोरोना की निगेटिव जांच रिपोर्ट के माघ मेला में आने की अनुमति नहीं दी गई है। मेला क्षेत्र में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति का परीक्षण किया जा रहा है। बर्ड फ्लू के खतरे के बीच माघ मेला प्रशासन लगातार श्रद्धालुओं को इस बात के लिए सतर्क कर रहा है कि वह पक्षियों को दाना न खिलाएं जो इस मौसम में संगम तट पर दूसरे देशों से आते है।

आज मेला क्षेत्र में विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जा रहा है। कई आश्रमों में पांरपरिक खिचड़ी भोज भी आयोजित किये जायेंगे। मुख्मयंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में विशेष पूजा करेंगे और खिचड़ी का प्रसाद चढ़ायेंगे जिसके बाद यहां प्रसिद्ध खिचड़ी मेला शुरू हो जायेगा। मुख्यमंत्री मौके पर गोरखपुर शहर पर आधारित एक डाक टिकट भी जारी करेंगे।

Related posts

Leave a Comment