राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने अंतर्राष्ट्रीय मज़दूर दिवस के अवसर पर सभी कामगारों को बधाई दी

राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने अंतर्राष्ट्रीय मज़दूर दिवस के अवसर पर सभी कामगारों को बधाई दी है। श्री कोविन्द ने कहा कि राष्ट्र निर्माण में असंख्य मज़दूरों का समर्पण जारी रहेगा और इससे नये भारत की बुनियाद पड़ेगी। उन्होंने मज़दूरों को सच्चे राष्ट्र निर्माता बताया।

भारत में लेबर किसान पार्टी ऑफ हिन्दुस्तान ने पहली मई, 1923 को इसकी शुरूआत की थी। हालांकि उस समय इसे मद्रास दिवस के रूप में मनाया जाता था लेकिन अब दुनिया के अन्य देशों की तरह इसे मई दिवस के रूप में ही मनाया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मज़दूर दिवस मनाने की शुरुआत पहली मई, 1886 को हुई। उस दिन अमरीका के मज़दूर संघों ने मिलकर निश्चय किया कि वे रोज़ाना 8 घंटे से ज्यादा काम नहीं करेंगे।

Related posts

Leave a Comment