संसद के मॉनसून सत्र के तय समय से पहले राज्‍यसभा अनिश्चित काल के लिए स्‍थगित

कोविड महामारी के मद्देनजर संसद के मॉनसून सत्र के तय समय से आठ दिन पहले आज राज्‍यसभा को अनिश्चित काल के लिए स्‍थगित कर दिया गया है। मॉनसून सत्र 14 सितंबर को आरंभ हुआ था और पहली अक्‍टूबर तक चलना था। राज्‍यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि दस दिन के सत्र के दौरान ऊपरी सदन में 25 विधेयक पारित किए गए और छह पेश किए गए। उन्‍होंने कहा कि सदन की उत्‍पादकता सौ प्रतिशत से अधिक रही।

रविवार को कृषि संबंधी दो विधेयक पारित करने के दौरान अनुचित व्‍यवहार का उल्‍लेख करते हुए सभापति ने सदस्‍यों से आग्रह किया कि भविष्‍य में ऐसी घटनाएं नहीं दोहराई जानी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि सदस्‍यों को सदन का बहिष्‍कार करने से पहले अपनी गलतियों को समझना चाहिए। श्री नायडू ने इस मुश्किल समय में सत्र में उपस्थित हुए सभी सदस्‍यों को धन्‍यवाद दिया। उन्‍होंने महामारी से लड़ाई कर रहे कोविड योद्धाओं की भूमिका की सराहना की।

लोकसभा की बैठक शाम 6 बजे होगी जिसमें लोकसभा को भी अनिश्चित काल के लिए स्‍थगित किए जाने की संभावना है।

Related posts

Leave a Comment