रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने तीन लाख रिजर्व सैनिकों को तत्काल प्रभाव से यूक्रेन में भेजने की घोषणा की

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने तीन लाख रिजर्व सैनिकों को तत्काल प्रभाव से यूक्रेन में भेजने की घोषणा की है। राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि देश पर खतरे की स्थिति में अपने लोगों की रक्षा के लिए वे सभी उपलब्ध साधनों का उपयोग करेंगे। उन्होंने पश्चिमी देशों पर रूस के खिलाफ परमाणु ब्लैकमेल का भी आरोप लगाया है। राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि देश के पास जवाब देने के लिए पर्याप्‍त हथियार उपलब्‍ध हैं।

राष्ट्रपति पुतिन की घोषणा के तुरंत बाद चीन ने सभी पक्षों से बातचीत और परामर्श से समस्या का समाधान निकालने का आग्रह किया। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि चीन ने संबंधित पक्षों से बातचीत और परामर्श के माध्यम से संघर्ष विराम का आह्वान किया।

इस बीच, ब्रिटेन के विदेशमंत्री गिलियन कीगन ने कहा कि यह चिंताजनक स्थिति है और रूस के राष्ट्रपति की धमकियों को गंभीरता से लिया जाना चाहिए।