24 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में अब तक ओमिक्रॉन के 2 हजार 135 मामलों का पता चला

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि देश के 24 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में अब तक ओमिक्रॉन के 2 हजार 135 मामलों का पता चला है। स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने आज नई दिल्ली में मीडिया को बताया कि ओमिक्रॉन से संक्रमित लोगों में से 828 लोग ठीक हो चुके हैं। अभी देश में ओमिक्रॉन के एक हजार 306 सक्रिय मामले हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 653, दिल्ली में 464 और केरल में 185 मामले दर्ज किए गए हैं।

लव अग्रवाल ने बताया कि पिछले एक सप्ताह में देश में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि 29 दिसंबर, 2021 को जहां इनकी संख्या 9 हजार 195 थी, वहीं अब यह बढ़कर 58 हजार से अधिक हो गई हैं। इस अवधि में पॉजिटिव मामलों की संख्‍या भी शून्‍य दशमलव सात-नौ प्रतिशत से बढ़कर पांच दशमलव शून्‍य-तीन प्रतिशत हो गई है। उन्होंने यह भी बताया कि छह राज्यों में 10 हजार से अधिक सक्रिय मामलों का पता चला है, जबकि 28 राज्यों में 5 हजार से कम सक्रिय मामले मिले हैं।

लव अग्रवाल ने यह भी बताया कि महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, झारखंड और गुजरात जैसे राज्‍यों में कोविड का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है जो चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि देश के 28 जिलों में साप्‍ताहिक आधार पर पॉजिटिव मामले 10 प्रतिशत से अधिक बने हुए हैं।

वैश्विक स्‍तर पर कोविड की स्थिति के बारे में लव अग्रवाल ने कहा कि इस साल 4 जनवरी को दुनियाभर में पांच लाख बीस हजार मामले दर्ज किए गए जो इस महामारी की शुरुआत के बाद से अब तक के सबसे अधिक मामले हैं। उन्होंने कहा कि इस महीने की 4 तारीख को समाप्त सप्ताह में लगभग 65 प्रतिशत मामले अमरीका, ब्रिटेन, फ्रांस, इटली और स्पेन से सामने आए। उन्होंने कहा कि अभी तक दुनिया में ओमिक्रॉन से 108 लोगों की मौत हो चुकी है।

देश में टीकाकरण की स्थिति की जानकारी देते हुए संयुक्त सचिव ने कहा कि कुल वयस्क आबादी के 90.8 प्रतिशत लोगों को पहली खुराक दी जा चुकी है, जबकि 65.9 प्रतिशत लोगों को दूसरी खुराक दी गई है। उन्होंने कहा कि 15 से 18 वर्ष की आयु वर्ग के 7 करोड़ 40 लाख किशोरों को टीकाकरण की आवश्यकता है और 3 तारीख को टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से अब तक इस आयु वर्ग को 1 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *