उत्तर प्रदेश में प्रयागराज कुम्भ मेले में बसंत पंचमी के अवसर पर तीसरे शाही स्नान आज

The third Shahi Bath today on the occasion of Basant Panchami in Prayagraj Kumbh Mela in Uttar Pradesh

आज बसंत पंचमी है। माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को सरस्वती पूजा के रूप में मनाया जाता है। बसंत पंचमी के दिन लोग पीले वस्त्र पहनते है और मां सरस्वती की पीले और सफेद रंग के फूलों से ही पूजा करते हैं। उत्तर प्रदेश में आज प्रयागराज में कुम्भ मेले में बसंत पंचमी के अवसर पर तीसरा और अंतिम शाही स्नान चल रहा है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि मेला प्रशासन ने सुचारू आवागमन के लिये प्रबंध किये हैं और कुंभ क्षेत्र में वाहनों के प्रवेश की अनुमति नहीं हैं।

बसंत पंचमी के अवसर पर आज 2 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं के पवित्र स्नान करने की उम्मीद है, क्योंकि यह इस मेले का अंतिम शाही स्नान है। मेला प्रशासन के मुताबिक कल तक ही 60 लाख से ज्यादा लोग स्नान कर चुके थे। बसंत पंचमी से पहले, मकर संक्रांति और मौनी अमावस्या के अवसर पर भी शाही स्नान हो चुके हैं। इसी बीच, इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने शनिवार को निर्देश दिया कि कुंभ मेले में नदी में स्नान करने वाली महिलाओं की कोई भी तस्वीर किसी भी प्रिंट या दृश्य मीडिया द्वारा प्रकाशित- प्रसारित नहीं की जानी चाहिए। प्रयागराज में मेला क्षेत्र 3,200 हेक्टेयर से ज्यादा में फैला है। 15 जनवरी से शुरू हुआ कुम्भ मेला 4 मार्च को महाशिवरात्रि के साथ समाप्त होगा।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बसंत पंचमी, श्री पंचमी और सरस्वती पूजा के अवसर पर देशवासियों को बधाई दी है। राष्ट्रपति ने अपने संदेश में आशा व्यक्त की है कि वसंतऋतु के आगमन और ज्ञान की पूजा से जुड़ा यह त्योहार परिवार, समाज और देश में शिक्षा और ज्ञान का प्रसार करेगा।

 

Related posts

Leave a Comment