विजयादशमी और दशहरा पारंपरिक हर्षोल्‍लास से मनाया गया

Vijayadashami and Dussehra celebrated with traditional joy

देश भर में विजयदशमी और दशहरा आज पारंपरिक हर्षोल्‍लास से मनाया जा रहा है। यह दिन बुराई पर अच्छाई, असत्य पर सत्य और अन्याय पर न्याय की विजय का प्रतीक है। विभिन्न भागों में रावण के साथ मेघनाद और कुंभकरण के पुतले जलाए जा रहे हैं। कर्नाटक में मैसूरु में 10 दिन तक चलने वाला उत्‍सव आज विजयादशमी के अवसर पर हाथी जुलूस के साथ सम्‍पन्‍न हो गया। हमारे संवाददाता ने बताया है कि इस अवसर पर अनेक झांकियां निकाली गई।

बालाकोट हवाई हमला, चंद्रयान 2, फिट इंडिया विषयों पर बनाई गई झांकियां जुलूस में देखी गई। दशहरा जुलूस के बाद मशाल के साथ कर्तव और पटाखे छोड़े गए जिसके बाद विजयदशमी का पर्व का समापन हुआ। मैसूरु के आस-पास शम्मी या खेजड़ी वृक्ष और इसके पत्ते की पूजा की जाती है। ये एक धार्मिक आचरण है जहां शम्मी के पत्ते को देकर कहा जाता है कि बन्नी बंगारवागोना जिसका मतलब है शम्मी पत्ता सोने के सम्‍मान है।

हमारे लखनऊ संवाददाता ने बताया है कि आज उत्‍तर प्रदेश में जगह-जगह राम लीलाओं का मंचन समाप्‍त हो गया।

प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर आज रामलीला का समापन हुआ और बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक के तौर पर पारंपरिक तरीके से पर रावण, कुंभकर्ण और मेघनाथ के पुतलों का दहन किया गया। राम की नगरी अयोध्या में लगभग सौ से अधिक रामलीलाएँ खेली जा रही हैं और आज वहां भी दशहरा के मौके पर रावण दहन का आयोजन हुआ। वाराणसी में डीएलडब्ल्यू ग्राउंड पर दिव्‍यांग बच्‍चों ने अनूठे अंदाज में रामचरित मानस पर आधारित मूक रामलीला का मंचन किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में विधि-विधान से दशमी पूजन किया और बाद में रामलीला मैदान में भगवान राम का राज तिलक किया।

कोलकाता संवाददाता ने बताया है कि यहां पारंपरिक तरीके से मां दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया जा रहा है।

विजयदशमी के अवसर पर लोग एक दूसरे को बधाई और मिठाईयां बांट रहे हैं। दूर्गा प्रतिमा विसर्जन के लिए विभिन्‍न नदियों के किनारों पर सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं। कोलकाता के बाबू घाट पर विसर्जन देखने के लिए भारी भीड़ जमा हुई है। पश्चिम बंगाल पर्यटन विकास निगम ने विसर्जन देखने वालो के लिए गंगा नदी में विशेष फेरी की व्‍यवस्‍था की है। राज्‍य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने विसर्जन से होने वाले प्रदूषण को लेकर कड़ी नजर बना रखी है।

उधर, हिमाचल प्रदेश में सप्ताह भर चलने वाला ऐतिहासिक कुल्लू दशहरा उत्सव भगवान रघुनाथ रथ यात्रा के साथ आज से कुल्‍लू जिले में शुरू हो गया है।

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविन्‍द, उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने इस अवसर पर लोगों को बधाई दी है।

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नई दिल्‍ली में इन्‍द्रप्रस्‍थ एक्‍सटेंशन में आयोजित दशहरा समारोह में भाग लिया।

उपराष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू और पूर्व प्रधानमंत्री डाक्‍टर मनमोहन सिंह ने पुरानी दिल्‍ली के लालकिला परेड मैदान में दशहरा समारोह में भाग लिया।

Related posts