भारत सरकार ने चीनी सीजन 2022-23 के दौरान 60 एलएमटी तक चीनी के निर्यात की अनुमति दी

सरकार ने चीनी मिलों से किसानों को शीघ्र भुगतान करने के लिए तेजी से निर्यात करने की अपील की

चीनी मिलों की भंडारण लागत और कार्यशील पूंजी लागत जैसी परिचालन लागत में कमी आएगी

देश भर के सभी मिलों के चीनी स्टॉक का समान परिसमापन

चीनी मिलों के बीच निर्यात कोटा के वितरण की वस्‍तुपरक प्रणाली

ईएसवाई 2022-23 के दौरान इथेनॉल उत्पादन की दिशा में 45-50 एलएमटी चीनी का डायवर्जन होने की उम्मीद है।

इथेनॉल उत्पादन के लिए लगभग 50 एलएमटी चीनी की उपलब्धता और लगभग 60 एलएमटी का अंत: शेष रखने को प्राथमिकता दी

चीनी सीजन 2021-22 के दौरान, भारत ने 110 एलएमटी चीनी का निर्यात किया

विश्‍व में चीनी का दूसरा सबसे बड़ा निर्यातक बन गया और देश के लिए लगभग 40,000 करोड़ रुपये के बराबर की विदेशी मुद्रा अर्जित की