योगी सरकार ने UP में लागू किया ESMA, अब 6 महीने तक कर्मचारी नहीं कर सकेंगे हड़ताल

CM Yogi Adityanath

कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रहे उत्तर प्रदेश में सरकारी मशीनरी को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए योगी आदित्‍यनाथ सरकार ने राज्य में एस्मा (Essential Services Management Act) कानून लागू कर दिया है.

कर्मचारी छुट्टी और हड़ताल पर नहीं जा सकेंगे

योगी सरकार द्वारा उत्‍तर प्रदेश में एस्मा कानून के लागू किए जाने के बाद अति आवश्यक सेवाओं में लगे कर्मचारी न तो छुट्टी ले सकेंगे और न ही हड़ताल पर जा सकेंगे. साफ है कि सभी अति आवश्यक कर्मचारियों को सरकार के निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा और जो इस नियम को नहीं मानेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.

क्‍या होता है एस्‍मा

एस्मा भारतीय संसद द्वारा पारित अधिनियम है, जिसे 1968 में लागू किया गया था. यह कानून संकट की घड़ी में कर्मचारियों की हड़ताल को रोकने के लिए बनाया गया था. यह कानून किसी राज्य सरकार या केंद्र सरकार द्वारा यह कानून अधिकतम छह माह के लिए लगाया जा सकता है.

इस कानून के लागू होने के बाद यदि कोई कर्मचारी छुट्टी लेता है या फिर हड़ताल पर जाता है, तो उनका ये कदम अवैध और दंडनीय की श्रेणी में आता है. एस्मा कानून का उल्लंघन कर हड़ताल पर किसी भी कर्मचारी को बिना वारंट गिरफ्तार किया जा सकता है.

Related posts

Leave a Reply